1. Home
  2. /
  3. Government Jobs
  4. /
  5. Sanchar Saathi Portal: मोबाइल...

Sanchar Saathi Portal: मोबाइल कनेक्शन के प्रबंधन संग खोए हुए फोन को ढूंढने में करेगा मदद

Sanchar Saathi Portal भारतीय दूरसंचार विभाग ने एक प्रोजेक्ट की शुरुआत की है, जिसका उद्देश्य मोबाइल ग्राहकों को सशक्त बनाना और उनकी सुरक्षा में मदद करना है।

इस प्रोजेक्ट का नाम है “संचार साथी पोर्टल” और यह एक ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म है,

जो मोबाइल ग्राहकों को उनके नाम पर जुड़े मोबाइल कनेक्शन के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करता है। इस पोर्टल के माध्यम से लोग अपने नाम पर बीमा किए गए मोबाइल कनेक्शन के विवरण को देख सकते हैं और यदि उनके नाम पर बहुत सारे कनेक्शन हैं, तो

वे उनमें से अवाश्यकता न होने पर कुछ कनेक्शन बंद कर सकते हैं। लोग कनेक्शन को ब्लॉक करने का सुझाव भी प्राप्त कर सकते हैं और कनेक्शन का पता भी लगा सकते हैं।

इस पोर्टल का उपयोग करके लोग खोए हुए मोबाइल फोन को ट्रैक कर सकते हैं और नए या पुराने मोबाइल फोन को खरीदने के समय उन्हें डिवाइस की जांच करने का मौका भी मिलता है।

इस पोर्टल पर दो मुख्य सेवाएं उपलब्ध हैं – पहली सेवा के जरिए लोग अपने कनेक्शन को ब्लॉक कर सकते हैं और दूसरी सेवा के जरिए वे अपने नाम पर कुल कनेक्शनों की संख्या के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

इस प्रोजेक्ट के माध्यम से दूरसंचार विभाग लोगों को चोरी हुए फोन के बारे में मुख्य जानकारी प्रदान करके उनकी सुरक्षा में मदद कर रहा है और उन्हें उनके व्यक्तिगत मोबाइल कनेक्शन को तुरंत ब्लॉक करने की सुझाव देता है। यदि आपका मोबाइल फोन हाल ही में चोरी हो गया है,

तो कनेक्शन से संबंधित जानकारी को ट्रैक करना बहुत मुश्किल हो सकता है, इसलिए यह पोर्टल उन लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण साधन है, जो अपने कनेक्शन को तुरंत ब्लॉक करना चाहते हैं।

संचार साथी पोर्टल के माध्यम से लोग अब अपनी मोबाइल फोन सुरक्षा को बढ़ा सकते हैं और अपने नाम पर जुड़े मोबाइल कनेक्शनों को प्रबंधित करने का अधिक आसान तरीके से अपना सकते हैं।

Sanchar Saathi Portal : Objective of Sanchar Saathi Portal  उद्देश्य

यह भारत में किसी भी व्यक्ति के कई तरह के मोबाइल कनेक्शनों के बारे में सही जानकारी प्रदान कर सकती है, जो व्यक्ति ने अपने नाम पर लिए हैं। यह योजना लागू करने का मुख्य उद्देश्य खोए हुए मोबाइल फोन को खोजने और चोरी होने पर उन्हें ब्लॉक करने के साथ-साथ पर्सनल आईडी पर कितने मोबाइल फोन और सिम एक्टिव हैं, उससे संबंधित जानकारी प्रदान करना है।

मोबाइल फोन खोने या चोरी होने पर लोगों को न केवल पैसों की हानि होती है बल्कि उनकी निजी जानकारी और डाटा भी लीक होने का खतरा रहता है। भारत सरकार ने इस समस्या का समाधान ढूंढने के लिए आधिकारिक संचार साथी पोर्टल की शुरुआत की है,

जो खोए हुए फोन को ढूंढने और चोरी हुए फोन को ब्लॉक करने के साथ-साथ व्यक्तिगत आईडी पर कितने मोबाइल फोन और सिम एक्टिव है उससे संबंधित जानकारी प्रदान करेगा।

Sanchar Saathi Portal Benefits (लाभ)

  • अगर मोबाइल फोन खो गया है तो आप अपना मोबाइल फोन को ब्लॉक कर सकेंगे ताकि कोई गलत संचार न हो सके।
  • लोग यह जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे कि उनके नाम पर कुल कितने कनेक्शन लिए गए हैं।
  • लोग कनेक्शन की जांच कर सकेंगे और जरूरत न होने पर कनेक्शन को ब्लॉक भी कर सकेंगे।
  • इस पोर्टल का उपयोग करके लोग अपने फोन की वर्तमान स्थिति के बारे में अधिक जान सकेंगे और चोरी होने पर अपना फोन ट्रैक कर सकेंगे।
  • यह पोर्टल उस स्थिति में मददगार साबित होगा जब लोग अपने फोन को ब्लॉक करना चाहते हो।
Eligibility and required documents (पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेज)
  • संचार साथी पोर्टल का लाभ भारत का कोई भी नागरिक प्राप्त कर सकता है।
  • मोबाइल नंबर
  • मोबाइल खरीद की रसीद
  • मोबाइल FIR की कॉपी
Process to login to Sanchar Sathi portal (लॉगिन करने की प्रक्रिया)
  • पोर्टल पर उपलब्ध सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको Sanchar Saathi Portal की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको Login का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • अब आपको इस पेज पर Username और Password दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको दिया गया कैप्चा कोड दर्ज कर Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप संचार साथी पोर्टल पर लॉगिन कर सकते हैं।

Sanchar Saathi Portal से गुम या चोरी हुए मोबाइल को ब्लॉक करने की प्रक्रिया

  • अगर आप अपना खोया हुआ फोन या चोरी हुआ फोन ढूंढना या ब्लॉक करना चाहते हैं तो इसके लिए निम्नलिखित प्रक्रिया को अपनाकर आप अपना मोबाइल फोन ढूंढ सकते है।
  • सबसे पहले आपको संचार साथी पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको CEIR Services के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको Block Stolen/Lost Mobile के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • अब इस पेज पर मोबाइल से संबंधित मांगी गई सभी जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • पहले मोबाइल की जानकारी दर्ज करनी होगी। जैसे मोबाइल नंबर, मोबाइल कंपनी, मोबाइल मॉडल और मोबाइल खरीद रशीद को अपलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको मोबाइल खोने से संबंधित जानकारी को दर्ज करना होगा। जैसे स्थान, तारीख, राज्य, केंद्र शासित प्रदेश, जिले का चयन, पुलिस स्टेशन का चयन, पुलिस शिकायत संख्या और पुलिस शिकायत प्रति को अपलोड करना होगा।
  • अब जिसका मोबाइल है उसकी व्यक्तिगत जानकारी दर्ज करनी होगी जैसे कि मोबाइलधारक का नाम, पता, पहचान संख्या, ईमेल आईडी और अंत में दिया गया कैप्चा कोड तथा ओटीपी के लिए मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको ओटीपी प्राप्त करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • आपके द्वारा दर्ज किए गए मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा, जिसे ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • इस प्रकार गुम या चोरी हुए मोबाइल को ब्लॉक करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

 

ये भी पढ़ें – Vidyasaarathi Scholarship: सरकार की उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता की पहल

 

How to check application status (आवेदन की स्थिति)

  • दूरसंचार विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको Check Request Status के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने अपने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • अब इस पेज पर वह आईडी दर्ज करनी होगी जो आपको गुम या चोरी हुए मोबाइल को ब्लॉक करने की प्रक्रिया में प्राप्त हुई थी।

Request ID दर्ज करने के बाद आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक

Leave a Comment