1. Home
  2. /
  3. Uncategorized
  4. /
  5. UP Free Boring Yojana:...

UP Free Boring Yojana: किसानों को नहीं पड़ेगी पानी की कमी, लहलहाएंगी फसलें

UP Free Boring Yojana उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति में सुधार करने के उद्देश्य से शुरू की गई है। यह योजना प्राथमिकता समृद्धि के साथ ग्रामीण क्षेत्रों के जीवन को सुखमय बनाने के लक्ष्य से आयोजित की गई है।

ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की कमी का समाधान करने के लिए यह योजना एक महत्वपूर्ण कदम है। इसके अंतर्गत, ग्रामीण क्षेत्रों में निःशुल्क बोरिंग का प्रस्ताव किया जाता है, जिससे किसानों को नियमित और पर्याप्त पानी की आपूर्ति हो सके। इसके माध्यम से किसान अपनी खेती में जल संसाधन का सही उपयोग कर सकेंगे, जिससे उनकी उत्पादकता बढ़ेगी और उनकी आय में वृद्धि होगी।

योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को निःशुल्क बोरिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी, जिससे उनके पास नियमित और स्वच्छ पानी की आपूर्ति होगी। इसके परिणामस्वरूप, उनकी जीवनशैली में सुधार होगा और उनकी आर्थिक स्थिति में वृद्धि होगी। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में जल संसाधन की सुरक्षा में मदद मिलेगी, जिससे जल संरक्षण की दिशा में भी प्रगति होगी।

UP Free Boring Yojana ग्रामीण विकास की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के जीवन को सुखमय बनाने में मदद करेगा। यह योजना उत्तर प्रदेश की ग्रामीण समुदायों के विकास और सामाजिक सुधार में महत्वपूर्ण योगदान करेगी।

UP Free Boring Yojana इतना मिलेगा अनुदान

UP Free Boring Yojana के तहत किसानों को बिना किसी आर्थिक बोझ के सिंचाई के लिए बोरिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। छोटे और सीमांत किसानों को विभिन्न तरह के लाभ प्रदान किए जाएंगे।

इस योजना के अंतर्गत, छोटे किसानों को 5,000 रुपये का अनुदान प्राप्त होगा, जो उनकी आर्थिक सहायता में मदद करेगा। साथ ही, सीमांत क्षेत्रों के किसानों को 7,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा, एससी/एसटी वर्ग के लाभार्थियों को योजनांतर्गत अधिकतम 10,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

यह उन्हें उनकी खेती में पानी की समय पर और नियमित आपूर्ति सुनिश्चित करने में मदद करेगी, जिससे उनकी उत्पादकता और आय में वृद्धि होगी।

UP Free Boring Yojana की पात्रता

  • योग्यता मानदंड: योजना के तहत उम्मीदवार को उत्तर प्रदेश राज्य का स्थायी नागरिक होना आवश्यक होगा।
  • अनुसूचित वर्ग: अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के किसानों के लिए कोई जोत सीमा निर्धारित नहीं की गई है, वे भी योजना के आवेदन हेतु पात्र माने जाएंगे।
  • पूर्व सिंचाई योजना: जिन उम्मीदवारों ने पहले से किसी अन्य सिंचाई योजना के अंतर्गत सिंचाई सुविधा का लाभ लिया हो, वे भी योजना के आवेदन हेतु पात्र माने जाएंगे।
  • भूमि सामर्थ्य: सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को योजना के तहत आवेदन हेतु पात्र माना जाएगा, जो कम से कम 0.2 हेक्टेयर या उससे अधिक कृषि योग्य भूमि के स्वामी हैं।
  • लघु और सीमान्त किसान: यूपी राज्य के लघु और सीमान्त वर्ग के सभी किसान योजना के आवेदन के लिए पात्र माने जाएंगे।
  • आर्थिक वर्ग: सामान्य जाति, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के किसान भी योजना के आवेदन के लिए पात्र माने जाएंगे।

UP Free Boring Yojana के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेज होने जरूरी हैं। यह दस्तावेज योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया में आवश्यक होंगे और आपकी पात्रता की जांच के लिए उपयोग किए जाएंगे।

  • आधार कार्ड: यह योजना के लिए पात्रता मानदंड में से एक है। आधार कार्ड की प्रतिलिपि को जमा करना आवश्यक होगा।
  • आय प्रमाण पत्र: योजना के तहत आर्थिक सहायता के लिए आपकी पारिवारिक आय की प्रतिलिपि को जमा करना होगा।
  • मोबाइल नंबर: आवेदक का मोबाइल नंबर जरूरी होगा, ताकि संदेश और अपडेट्स के लिए संपर्क किया जा सके।
  • जाति प्रमाण पत्र: यदि आप सामाजिक वर्ग के अंतर्गत आते हैं, तो आपको जाति प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि को जमा करना होगा।
  • भूमि संबंधित दस्तावेज: आवेदन के लिए आपके पास भूमि संबंधित दस्तावेज जैसे कि नवीनतम खतौनी, 61 ख और खसरा की प्रतिलिपि होनी चाहिए।
  • आयु प्रमाण पत्र: आवेदक की आयु की प्रतिलिपि को जमा करना आवश्यक होगा।
  • पासपोर्ट साइज फोटो: आवेदक की पहचान की प्रतिलिपि के रूप में एक पासपोर्ट साइज फोटो जमा करना आवश्यक होगा।
  • बैंक खाता पासबुक: योजना के तहत आर्थिक सहायता के लिए बैंक खाता पासबुक की प्रतिलिपि को जमा करना आवश्यक होगा।

 

ये भी पढ़ें – UP Kanya Sumangala Yojana: बेटी के जन्म से लेकर विवाह तक का पूरा खर्च उठाएगी उत्तर प्रदेश सरकार

इस तरह करें फॉर्म डाउनलोड

UP Free Boring Yojana के आवेदन हेतु निम्नलिखित जानकारी दी गई है। इसका पालन करके आप आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते हैं:

  • सर्वप्रथम उम्मीदवारों को आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, जो gov.in है।
  • वेबसाइट के होम पेज पर “नया क्या है” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • विकल्प में “डाउनलोड” पर क्लिक करें।
  • विभिन्न प्रकार के आवेदन पत्रों के लिए विकल्प दिखाए जाएंगे, आपको “निःशुल्क बोरिंग योजना हेतु प्रार्थना पत्र” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब एक PDF फॉर्मेट में आपके सामने आवेदन पत्र दिखाई देगा।
  • ऊपर दिए गए Save के विकल्प पर क्लिक करके आप फॉर्म को अपने डिवाइस में सेव कर सकते हैं।
  • आपको फॉर्म के प्रिंट के आइकन पर क्लिक करके इसे प्रिंट कर लेना होगा।
  • इस तरीके से, आप यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना के आवेदन पत्र को डाउनलोड कर सकते हैं और आवेदन करने की प्रक्रिया में आगे बढ़ सकते हैं।

आवेदन करने का तरीका

उन उम्मीदवारों के लिए जो उत्तर प्रदेश राज्य से हैं और जो ‘उत्तर प्रदेश निःशुल्क बोरिंग योजना 2023’ के तहत आवेदन करना चाहते हैं, यहां हम आपको आसानी से योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया का विवरण प्रस्तुत कर रहे हैं। निम्नलिखित कदमों का पालन करके, आप योजना के लाभान्वित हो सकते हैं बिना किसी परेशानी के:

  • सबसे पहले, उम्मीदवारों को लघु सिंचाई विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट gov.in पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर पहुँचने पर आपके सामने वेबसाइट का मुख्य पृष्ठ दिखाई देगा।
  • होम पेज पर ‘नया क्या है’ के ऑप्शन पर क्लिक करें, जिससे आपके सामने कई विभिन्न विकल्प आ जाएंगे।
  • आपको ‘डाउनलोड’ विकल्प को चुनना है और अगले पृष्ठ पर ‘योजना हेतु आवेदन पत्र’ विकल्प को चुनना है। इससे आप योजना हेतु आवेदन पत्र डाउनलोड करके प्रिंट निकाल सकते हैं।
  • प्रिंट आवेदन पत्र को प्राप्त करने के बाद आपको सभी आवश्यक जानकारी को सत्यापित और सुनिश्चित करने के लिए ध्यान से भरना होगा।
  • फॉर्म भरने के बाद आपको योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।
  • फॉर्म को पूरी तरह से तैयार करने के बाद आपको आपके क्षेत्रीय खण्ड विकास अधिकारी, तहसील कार्यालय, या लघु सिंचाई विभाग कार्यालय में जाना होगा। वहां आपको आवेदन पत्र जमा करवाना होगा।

Leave a Comment