1. Home
  2. /
  3. Government Jobs
  4. /
  5. मध्य प्रदेश में युवा...

मध्य प्रदेश में युवा स्वाभिमान योजना के तहत प्रतिमाह मिलते 5000 रुपये, 365 दिन मिलता काम

देश में हर साल बेरोजगार लोगों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। केंद्र से लेकर प्रदेश सरकारें इस ओर कदम उठा रही हैं। पूरे भारत में भिन्न-भिन्न योजनाएं चलाकर लोगों को रोजगार मुहैया करवाया जा रहा है। इसी क्रम में मध्य प्रदेश के युवा बेरोजगारों को स्वाभिमान योजना का लाभ दिया जा रहा है।

स्वाभिमान योजना को शुरू करने का उद्देश्य गांवों-शहरों के शिक्षित युवा, अशिक्षित युवा, आर्थिक रूप से कमजोर युवाओं को रोजगार देना हैं। युवाओं को उनकी योग्यता के अनुसार काम दिया जाता है। योजना का लक्ष्य ज्यादा से ज्यादा रोजगार के साधन उपलब्ध करवाकर बेरोजगारी को समाप्त करना और अर्थव्यवस्थआ को मजबूत करना है।

युवाओं को स्किल ट्रेनिंग भी दी जाती

खास बात है कि इस योजना के अंतर्गत युवा बेरोजगार युवा को प्रति माह 5000 रुपये की राशि मिलती है और उन्हें पूरे साल 365 दिन काम दिया जाता है। रोजगार के साथ जिस क्षेत्र में आवेदन करने वाले पात्र युवा बेरोजगारों को रुचि होगी, उनको उस क्षेत्र में स्किल ट्रेनिंग भी दी जाएगी, ताकि वो भविष्य में अच्छी नौकरी भी प्राप्त कर सकें।

2019 में की गई थी योजना की शुरुआत

मध्य प्रदेश में युवा स्वाभिमान योजना की शुरुआत 2019 में की गई थी। हालांकि, उस वक्त एमपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री कमनाथ ने 1 फरवरी 2020 को इस योजना में संशोधन किया था।

पूर्व में स्वाभिमान योजना के तहत युवा बेरोजगारों को 100 दिन का रोजगार प्रदान किया जाता था। इसके लिए उन्हें एक साल में कुल 13,000 रुपये दिए जाते थे। उसके बाद योजना में संशोधन करके इसके कार्यदिवस को 100 दिन की बजाए साल के 365 दिन कर दिया गया।

अब बेरोजगार युवाओं को 5,000 रुपये प्रति माह वेतन पूरे साल दिया जाता है। इस तरह उन्हें साल में 60,000 रुपये प्राप्त हो जाते हैं। योजना के तहत मिलने वाली राशि सीधे आवेदकों के बैंक खातों में भेजी जाती है।

पात्रता

  • आवेदन करने वाले आवेदक का मध्य प्रदेश का निवासी होना आवश्यक है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदकों की उम्र 21 साल से 30 साल होनी चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने के लिए प्रदेश के शहर में रहने वाले बेरोजगार युवा भी इसका आवेदन फॉर्म भर सकते हैं।
  • आवेदन करने वाले के परिवार की आय 2 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए, नहीं तो वह अपात्र माना जाएगा।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण-पत्र
  • आयु प्रमाण-पत्र
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पहचान पत्र
  • आय प्रमाण-पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो

इस तरह करें आवेदन

  • आवेदन करने वाले को सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट https://yuvaswabhimaan.mp.gov.in/ पर जाना होगा।
  • वहां होम पर जाकर आपको नवीन पंजीकरण का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर क्लिक करना होगा।
  • वहां पर आपको रजिस्ट्रेशन करें के विकल्प को चुनकर क्लिकर करना होगा।
  • आपके सामने एक नया रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर पूछी जाने वाली सभी जानकारियों- नाम, पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड नंबर आदि दर्ज करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म को 4 भागों में पूरा किया जाना होता है।
  • इसके बाद पंजीकरण फॉर्म में मांगे गए दस्तावेज को अपलोड करना होगा।
  • उसमें ओटीपी के साथ अपने मोबाइल नंबर को रजिस्टर करना पड़ेगा।
  • फिर सबमिट बटन पर क्लिक करके पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा करें।

मोबाइल ऐप पर भी कर सकते

  • इच्छुक उम्मीदवार योजना का लाभ पाने के लिए मोबाइल ऐप पर भी आवेदन कर सकते हैं। उन्हें सर्वप्रथम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर एंड्राइड ऐप डाउनलोड का विकल्प दिखेगा, जिस पर क्लिक करना होगा।
  • उसे क्लिक करते ही नया एक और पेज खुलकर सामने आ जाएगा।
  • उस पेज पर ऐप इंस्टॉल पर क्लिक करना होगा, जिस पर ऐप सफलतापूर्वक डाउनलोड हो जाएगा।

Leave a Comment