1. Home
  2. /
  3. Goverment Schemes/Yojana
  4. /
  5. महिला सम्मान सेविंग योजना...

महिला सम्मान सेविंग योजना में 2 साल निवेश की अवधि और रिटर्न 7.5 प्रतिशत का, मौका जानें ना दें

बालिकाएं, युवतियों व महिलाओं के विकास और उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार की ओर से कई योजनाएं चलाई जाती हैं। हालांकि, योजनाओं की अवधि ज्यादा होती है, जिसकी वजह से लोग निवेश करने से बचते हैं।

केंद्र सरकार ने महज 2 वर्ष में ज्यादा ब्याज दर के साथ लाभ पहुंचाने वाली योजना शुरू की है, जिसका नाम महिला सम्मान बचत प्रमाण-पत्र है। इसमें महिलाएं, युवतियां अन्य योजना की अपेक्षा कम समय में ज्यादा रिटर्न प्राप्त कर सकती हैं। इस योजना की हर जगह चर्चा है। पोस्ट ऑफिस में खाता खोलकर योजना का लाभ लिया जा सकता है। तो आइए जानते हैं क्या महिला सम्मान बचत प्रमाणपत्र योजना।

कौन-कौन कर सकता है आवेदन

केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई महिला सम्मान सेविंग योजना विशेष रूप से बालिकाओं, युवतियों और महिलाओं सामाजिक व आर्थिक विकास के लिए ही बनाई गई है। इस योजना के तहत कोई भी महिला बिना किसी उम्र की सीमा शर्त के बावजूद निवेश कर सकती हैं। इस योजना की घोषणा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट सत्र के दौरान की थी।

7.5 प्रतिशत की दर से मिलेगा ब्याज

योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा इसमें आम योजनाओं से अधिक महिलाओं को ब्याज दिया जा रहा है। योजना के अंतर्गत महिलाओं को प्रतिवर्ष के आधार पर 7.5 प्रतिशत की दर से ब्याज दिया जाएगा। इस योजना में महिलाएं दो लाख रुपये तक राशि निवेश कर सकती हैं। यह ब्याज हर तीन माह में निवेशक के खाते में जमा किया जाएगा।

टैक्स में मिलती नहीं है छूट

कुछ लोगों को यह अंदेशा है कि इस योजना के तहत टैक्स छूट में भी लाभ दिया जाएगा, लेकिन ऐसा गलत है। इसका जवाब देते हुए वित्त मंत्रालय ने 5 अप्रैल 2023 को जारी की गई एक अधिसूचना के माध्यम से साफ-साफ कहा था कि योजना में निवेश पर इनकम टैक्स ऐक्ट के सेक्शन 80C के तहत रिबेट का लाभ नहीं लिया जा सकता है।

इन दस्तावेजों की पड़ेगी जरूरत

  • आवेदक बालिका, युवती या महिला का आधार कार्ड होना चाहिए।
  • पैन कार्ड होना चाहिए।
  • बैंक खाता पासबुक ( यदि हो तो )।
  • चालू मोबाइल नंबर होना चाहिए
  • करीब 4 पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि होने चाहिए।

निवेश की सीमा 2 साल, अधिकतम निवेश 2 लाख

केंद्र की इस योजना के तहत निवेश की सीमा बहुत कम ही रखी गई है, ताकि महिलाओं को अपनी बचत के लिए लंबा इंतजार ना करना पड़े। इसमें निवेश की सीमा 2 वर्ष रखी गई है। अगर आप अप्रैल 2023 में इस योजना के अंतर्गत निवेश करते हैं तो अपने पैसे अप्रैल 2025 तक आसानी से निकाल सकते हैं।

यही नहीं, इन दो वर्षों के बीच आप थोड़ा-थोड़ा करके अपनी राशि भी निकाल सकते हैं। इसमें कम से कम 1000 रुपये और ज्यादा से ज्यादा 2 लाख रुपये निवेश किए जा सकते हैं। ध्यान देने वाली बात यह है कि निवेश 100 के गुणांक में ही होना चाहिए, जैसे 1200, 1300, 1400 रुपये। 2 साल के बाद अपना पैसा फॉर्म-2 के जरिए निकाला जा सकेगा।

पोस्ट ऑफिस में खुलेगा खाता

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए महिला आवेदक को पोस्ट ऑफिस में अपना खाता खुलवाना होगा।
  •  सरकार की ओर से जारी किए गए नोटिफिकेशन में बताया गया कि 1.59 लाख पोस्ट ऑफिस में इसके लिए खाता खुलवाया जा सकता है।
  • इस योजना के तहत बालिकाओं, युवतियों और महिलाओं को निवेश करने का अधिकार है। साथ ही अगर कोई नाबालिग लड़की है तो उसके नाम पर अभिभावक भी योजना में पैसा निवेश कर सकते हैं।

इन परिस्थितियों में होगा अकाउंट बंद

  • आवेदक की मृत्यु के बाद खाता बंद कर दिया जा सकेगा।
  • अगर कोई आवेदक किसी गंभीर बीमार से जूझ रहा है या फिर फिर उसके अभिभावकों की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी परिस्थितियों खाते को सारे जरूरी दस्तावेज़ दिखाकर बंद किया जा सकता है।
  • महिला आवेदक खाता खुलने के 6 महीने बाद भी इसे बंद करवा सकती हैं। हालांकि, इस परिस्थिति में खाता धारक को 2 प्रतिशत कम ब्याज दिया जाएगा।

Leave a Comment